डाटा जर्नलिज्म : सूचनाओं के महासागर से कैसे निकालें खबर ?

1. डाटा जर्नलिज्म क्या है? 2. डाटा जर्नलिज्म का इतिहास 3. डाटा जर्नलिज्म की अहमियत (परिभाषाएं) 4. खबरों में आँकड़ों का इस्तेमाल जरूरी क्यों? 5. आँकड़े कहां से जुटाएं? 6. Continue Reading

Posted On :

स्टिंग ऑपरेशन: घात लगाकर सुबूत जुटाना

स्टिंग ऑपरेशन को घात पत्रकारिता या डंक पत्रकारिता भी कहा गया है। दरअसल घात पत्रकारिता खोजी पत्रकारिता की कोख से ही निकली है लेकिन इसमें दस्तावेज से अधिक दृश्य या Continue Reading

Posted On :

वेब समाचारः पारंपरिक परिभाषाओं से आगे

शालिनी जोशी… वेब समाचार आखिर पारंपरिक मीडिया के समाचारों से कैसे अलग है. इसमें ऐसा क्या विशिष्ट है जो इसे टीवी, रेडियो या अख़बार की ख़बर से आगे का बनाता Continue Reading

Posted On :

स्टिंग ऑपरेशन के लिए खुफिया कैमरे का चुनाव

आज के दौर में किसी भी अनियमितता, गैरकानूनी काम, भ्रष्टाचार या षड़यंत्र को उजागर करने के लिए सुबूतों की ज़रूरत होती है। हमारे देश में मीडिया इसी प्रकार सुबूतों को Continue Reading

Posted On :

खोजी पत्रकारिता क्या है ,कैसे करते है खोजी पत्रकारिता ?

विशेष आलेख/डॉ .सचिन बत्रा खोजी पत्रकारिता हर दौर मा प्रसांगिक रही है | दरअसल हर पत्रकार जो खोजबीन करके समाचार बनाता है वह खोजी पत्रकार ही है| खोजी  पत्रकारिता को Continue Reading

Posted On :