कवर्धा : जनता शासन प्रशासन के रवैये से तंग आ चुकी है जिसके परिणाम स्वरूप कई ग्रामो में जनाक्रोश उबाल रहा है विगत दिनों कवर्धा विधायक को ग्रामीणों द्वारा खरी खरी सुनाने बल्कि गरियाने की खबर किसी समाचार पत्र में नहीं छपा किन्तु इसके बाद भी जनता का आक्रोश थम नहीं रहा है ,आज फिर ग्राम सुराज अभियान के समाधान शिविर में रुसे और सोढ़ा समेत क्षेत्र की जनता लाल हो गई और शिविर में पहुंचे अधिकारियों को बंधक बना लिया और लम्बे समय तक हंगामा होता रहा बताया जा रहा है कि पुलिस के हस्तक्षेप के चलते प्रशासनिक अमला सुरक्षित बच सका। जनता सरकार की वादा खिलाफी से आक्रोशित थी ,जनता इस बात से बेहद नाराज थी कि पीएम आवास में भाजपा नेताओ ने अपने लोगो को ही दिलवाया इसके अलावा शौचालय निर्माण की राशि भी नहीं मिली है ,किसान इस बात से भी नाराज है कि गन्ना का पेमेंट नहीं हुआ है इस तरह जनता बेहद आक्रोशित थी।

अपर कलेक्टर ,तहसीलदार भी बने बंधक

आक्रोशित जनता ने पुरे टीम को बंधक बना लिया था जिसमे अपर कलेक्टर प्रदीप मिश्रा ,तहसीलदार करिश्मा दुबे एवं अन्य अधिकारी कर्मचारी थे। बताय जा रहा है जनता का आक्रोश देख कर प्रशासन के अधिकारी चूहे की तरह दुबक गए थे। मौके पर पुलिस ने जनता को शांत करते हुए इन्हे बंधक से आजाद किया। जनता का आक्रोश अब भी चरम पर है।

पत्रकारों को झेलना पड़ा आक्रोश ,बोले दिल्ली तक पहुचाओ हमारी आवाज

इस सम्बन्ध में प्रत्यक्ष दर्शियों ने बताया कि जनता इतनी ज्यादा गुस्से में थी कि उसका गुस्सा मीडिया पर भी फुट पड़ा। जनता ने पत्रकारों को भी बंधक बनाने की कोशिश की। पत्रकार सूर्य चंद्रवंशी ने बताया कि जनता का कहना था कि उनकी बात दिल्ली तक पहुंचाई जाय।

जनता के आक्रोश से सहम गया है प्रशासन

बताया जा रहा है कि समस्या का समाधान में नाकामी के चलते जिले की जनता आक्रोशित है ,जनता के आक्रोश से प्रशासन सहम गया है। गौरतलब है कि जिले में भ्रष्ट्राचार चरम पर है और जनता का सुनने वाला कोई नहीं है। सब अपनी रोटियां सेंक रहे हैं। ऐसे में नेताओ और नौकरशाही से जनता बेहद नाराज है।

Spread the love

One thought on “जनाक्रोश : आक्रोशित जनता ने अपर कलेक्टर ,तहसीलदार सहित समस्या समाधान शिविर की टीम को बनाया बंधक”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *