पीड़ित को पिटाई के दौरान गंभीर चोटें आई हैं। फिलहाल वह अस्पताल में है और उसका कहना है कि मीन्यू में सिर्फ मछली और मुर्गे का मांस परोसा गया। भीड़ की पिटाई से उन्हें चोटें आई हैं। फिलहाल वह रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं। गोवंश की हत्या और उसका मांस परोसने को लेकर हुए हंगामे के दौरान भीड़ ने करीब 21 वाहनों और जुम्मन समेत 16 घरों को नुकसान पहुंचाया।

रांची : झारखंड के कोडरमा जिले में बीफ परोसने के शक को लेकर भीड़ बेकाबू हो गई। भीड़ को जिस घर में बीफ परोसे जाने को लेकर सूचना मिली थी, वे उस परिवार के मुखिया की जान लेने पर उतारू हो गए। आक्रोश में भीड़ ने इलाके में हमला बोल दिया। गांव वालों ने इस दौरान कुछ घरों और धार्मिक स्थलों पर तोड़फोड़ और आगजनी की, जिसके बाद से इलाके में तनाव का मौहाल है। जानकारी होने पर पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।

यह मामला डोमचांच के नावाडीह गांव का है। मंगलवार (17 अप्रैल) सुबह यहां अल्पसंख्यक समुदाय के दर्जी जुम्मन मियां को भीड़ ने जमकर पीटा। ग्रामीणों ने इसी के साथ कुछ लोगों के घरों, धार्मिक स्थलों और उनके वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया। यह पूरा हंगामा इसलिए कटा, क्योंकि भीड़ को शक था कि सोमवार (16 अप्रैल) रात जुम्मन के बेटे के रिसेप्शन में मेहमानों को बीफ परोसा गया।

उधर, जुम्मन का कहना है कि मीन्यू में सिर्फ मछली और मुर्गे का मांस था। पिटाई के दौरान उन्हें चोटें आई हैं। फिलहाल वह रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मंगलवार सुबह कुछ लोगों ने जुम्मन के घर के पीछे मैदान में कुछ खुर और हड्डियां देखी थीं। दावा किया गया कि ये सब उसी के बेटे के रिसेप्शन की पार्टी में बची हुई जूठन ही थी।

गांव वाले इसी पर भड़क गए और वे जुम्मन के घर जा पहुंचे। यहां उन्होंने जुम्मन के घर में रखी खाने की सामग्री फेंकी। गोवंश की हत्या और फिर उसका मांस परोसने को लेकर हुए हंगामे के दौरान भीड़ ने करीब 21 वाहनों और जुम्मन समेत 16 घरों को नुकसान पहुंचाया।

हंगामे के फौरन बाद मौके पर किसी शख्स ने 100 नंबर पर फोन कर दिया था। जानकारी मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। घटना के दौरान पुलिस भी जुम्मन को बचाने में नाकाम रही थी। बीच-बचाव के दौरान इंस्पेक्टर कुमार नाम के पुलिस वाले को भी चोटें लगी हैं। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। घटना के बाद मौके से ईंटों-गुम्मों के टुकड़े पाए गए। ऐसे में स्पष्ट है कि घटना के दौरान पत्थरबाजी भी हुई थी।
आपको बता दें कि जिले के जयनगर के सांथ गांव में दो दिनों पहले गोवंश की हत्या का मामला प्रकाश में आया था, जिसके बाद इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई थी। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों की गिरफ्तारी की थी। वहीं, ताजा मामले को लेकर एसडीओ प्रभात कुमार बर्दियार का कहना है कि जल्द ही यह मामला शांत हो जाएगा।
पुलिस ने तोड़फोड़ करने के आरोप में सूरज कुमार (जेरुआडीह ), जगदीश मेहता (नावाडीह), संजय मेहता (महेशपुर), अनिल कुमार ( डोमचांच बाजार) किरण प्रकाश (शिवसागर, डोमचांच ) को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा दो-तीन अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है.

Spread the love

2 thoughts on “दंगा : बीफ परोसे जाने के शक में जान लेने पर उतारू हुई भीड़, बस्ती पर हमला, तोड़फोड़ और आगजनी”

  1. आज देश के सामने सबसे बड़ा सवाल थ है कि घोड़ी और गाय के नाम पर गुंडागर्दी कब तक चलती रहेगी?

  2. Welcome offer (T&C apply)
    See offers on the site.
    Other Games at Bet365.
    Apart from traditional famous sports listed above, users can also choose and play with casino games like poker, bingo, slot machines, and live casino games, all coming with special offers and extras.
    Mobile App: one of the best betting app.
    Bet365 released on IOS and Google Play their application. By clicking on the button above, you’ll get also the on-the-move bonus code, dedicated to mobile players only. http://ludozher.info/bet365-india.php
    Odds, bonuses and payouts at bet365.
    By choosing to play on bet365, you benefit from above-average odds in almost all areas of betting . Betting on underdogs is particularly well rewarded, but the odds are also above-average for favorites. Lesser known sports and second-division leagues are also subject to lower odds, but still attractive nonetheless.
    If you want to bet at bet365 for the first time, you will first need to create an account. http://ludozher.info/bet365 For example

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *