मलप्पुरम : मलप्पुरम प्रेस क्लब में एक मलयालम दैनिक के फोटो पत्रकार पर कथित तौर पर हमला करने के सिलसिले में आरएसएस के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।

पुलिस ने बताया कि दिलीप कुमार (31) और शिबू (30) आरएसएस के कार्यकर्ता थे और गुरुवार की रात उन्हें गिरफ्तार किया गया। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बताया कि सरकार ने इस घटना को ‘गंभीरता’ से लिया है। विजयन ने फेसबुक पर किए एक पोस्ट में कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई शुरू करने के लिए पुलिस को निर्देश दिये गये है। आरएसएस के कुछ कार्यकर्ता क्लब में घुस आए और फोटोग्राफ़र  फौद सानिआ पर कथित तौर पर हमला किया। विरोध मार्च के दौरान एक दोपहिया सवार से आरएसएस कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर मारपीट की घटना का विडियो बनाने के लिए उन्होंने फोटोग्राफ़र पर हमला किया था। 

विजयन ने कहा,‘दो लोगों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। प्रेस की आजादी पर हमले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’ पुलिस ने बताया कि दोनों कार्यकर्ताओं को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। आरएसएस के 10 कार्यकर्ताओं के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। फोटो पत्रकार की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है जिनके पैर में जख्म आया है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

पुलिस ने बताया कि कुछ दिन पहले जिले में आरएसएस के कार्यालय पर हमले के विरोध में आरएसएस के लगभग 150 कार्यकर्ताओं ने मार्च निकाला था। मार्च को देखकर दुपहिया सवार मौके से जाना चाहता था, लेकिन आरएसएस कार्यकर्ताओं ने उसे रोक लिया और वाहन की चाबी ले गए। यह देखकर पत्रकार ने अपने मोबाइल से इस घटना का विडियो बना लिया। आरएसएस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने क्लब में घुसकर उन पर कथित तौर पर हमला किया और उनका फोन छीन लिया। 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *