झारखंड पुलिस के आइजी शंभू ठाकुर ने इन गिरफ्तारियों की पुष्टि की.उन्होंने  बताया कि लड़की को जलाने वाले मुख्य अभियुक्त को कुछ ही देर पहले चौपारण (हजारीबाग) से गिरफ्तार किया गया है. अब सिर्फ तीन लोग फरार हैं. इन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इसका स्पीडी ट्रायल भी कराया जाएगा. पीड़िता के परिजनों को सुरक्षा भी उपलब्ध करा दी गई है ताकि उनके साथ कोई और अनहोनी ना हो सके.

कब की है घटना?

यह वारदात तब हुई, जब पीड़ित लड़की पड़ोस के गांव में अपने रिश्तेदार के यहां गई थी. वहीं पर पानी भरने के दौरान गुरुवार की रात लड़की के कथित प्रेमी ने उसे अगवा कर लिया और अपने दोस्तों के साथ उससे दुष्कर्म कर यह बात किसी को नहीं बताने की धमकी दी. लेकिन, लड़की ने घर लौटते ही अपनी मां को सारी बातें बता दी.

चतरा के एसपी अखिलेश वरियर ने मीडिया को बताया कि शुक्रवार को इस मामले को लेकर लड़की के गांव राजाकेंदुआ में पंचायत बैठी. इस दौरान मुखिया और दूसरे लोगों ने लड़के पर पचास हजार रुपये का जुर्माना, कान पकड़ कर सार्वजनिक उठक-बैठक और पीड़िता से माफी मांगने का फैसला सुनाया. लड़के को यह सज़ा नागवार गुजरी और वह पंचायत के बीच में ही उठकर लड़की के घर में घुस गया और केरोसिन छिड़ककर उसके बदन में आग लगा दी. इससे उसकी मौत हो गई. इसके बाद 20 लोगों के खिलाफ नामजद और 10 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है.

चतरा के डीसी जीतेंद्र कुमार ने शनिवार को राजाकेंदुआ में लड़की से परिजनों से बातचीत की और उन्हें तत्काल एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई.

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री रघुवर दास खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं. उनके निर्देश पर एसआईटी इसकी जांच कर रही है, हम लोग इस मामले में विशेष सतर्क हैं क्योंकि लड़का और लड़की दोनों के घर एक ही टोले में हैं

झारखंड में रेप

बाइक से अगवा, जंगल मे गैंगरेप

लड़की के पिता ने  कहा, ”हमलोग पड़ोस के गांव बनथु गए थे, वहां मेरी चचेरी बहन की शादी थी. गुरुवार की रात करीब आठ बजे वहीं से मेरे गांव के एक लड़के ने अपने चार दोस्तों के साथ मेरी बेटी को अगवा कर लिया. वे बाइक से जबरन मेरी बेटी को अपने साथ जंगल की तरफ ले जाने लगे तब मेरे भतीजे ने उन्हें देख लिया था. वे लोग दो बाइक से थे. हमलोगों ने तभी अपनी बेटी को खोजा लेकिन उसका पता नहीं लगा सके. रात 11 बजे वह रोती हुई वापस लौटी और अपनी मां से सारी बातें बताई. तब हमलोग यह जान सके.”

शुक्रवार की दोपहर इस मामले की पंचायत के दौरान लड़की की मां ने लड़के से कहा कि वह लड़की से शादी कर ले.उन्होंने  बताया कि उनके इस प्रस्ताव से लड़के की तरफ के लोग बिगड़ गए. पंचायत में ही हम लोगों से मारपीट की जाने लगी और उसने शादी से इनकार कर दिया.

  

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *